महामारी को दूर करने भगवान बालाजी की विशेष पूजा अर्चना ।।

बैतूल - आज जहाँ एक ओर पूरा विश्व भयानक महामारी के दौर से लड़ रहा है वही श्री रुक्मणी बालाजी मंदिर बैतूल बाज़ार बालाजीपुरम में प्रतिदिन कोविड प्रोटोकाल अनुसार लोगों के अच्छे स्वास्थ के लिए भगवान बालाजी की विधिवत विशेष पूजा अर्चना की जा है मंदिर के पुजारी श्री असीम पंडा स्वामी जी ने बताया की आज उसी तारतम्य में  बैतूल बाज़ार के उन्नत कृषक श्री शिवकुमार मेहतो एवं उनकी पत्नी श्रीमती अनिता मेहतो ने अपनी मैरिज ऐनिवर्सरी के अवसर पर कोविड प्रोटोकाल का पालन करते हुए भगवान बालाजी की विशेष पूजा अर्चना कर लोगों के बेहतर स्वास्थ के लिए…

Continue Reading

आपदा को अवसर समझ रहे झोलाछाप डॉक्टर खुद भी दे रहे और मेडिकल से भी दवाई लेने लिख रहे पर्चा स्वास्थय विभाग की अनदेखी से मौत को गले लगा रहे मरीज

शाहपुर (आशीष राठौर) : कोरोना के कहर से जहां पूरा देश चपेट में है। वहीं झोलाछाप डॉक्टर इस आपदा को अवसर समझ रहे हैं। कोरोना से डरकर लोग टेस्ट कराने के बजाय झोलाछाप डॉक्टरों के शरण में जाना बेहतर समझ रहे हैं। यही वजह है कि समय पर सही उपचार नहीं मिलने से कोरोना अब कहर बरपा रहा है। बावजूद इसके स्वास्थ्य विभाग मौन है। जबकि पहले भी इन झोलाछाप डॉक्टरों पर कार्रवाई की मांग की जा चुकी है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग इस ओर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दे रहा। जिसके चलते सुबह से देर रात तक इन दिनों झोलाछाप…

Continue Reading

माता-पिता की वर्षगांठ पर माधुरी ने भेंट किए सैनिटाइटर और मास्क

बैतूल। जिले में जन्मदिन और सालगिरह जैसे आयोजनों को यादगार बनाने के लिए विभिन्न सेवाकार्य करने की परंपरा बन चुकी है। इसी तारतम्य में समाजसेवी माधुरी साबले ने अपने माता-पिता की वर्षगांठ पर कोरोना काल में फ्रंटलाइन वारियर की भूमिका का निर्वहन कर रहे पुलिसकर्मियों के लिए आवश्यक सामग्री दान करने की पहल की। माधुरी साबले ने पुलिसकर्मियों के लिए पानी की बोतलें, सैनिटाइजर और मास्क पुलिस नियंत्रण कक्ष में रक्षित निरीक्षक मनोरमा बघेल को सौंपे ताकि इन्हें जवानों को वितरित किया जा सके। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि वास्तविक स्नेह प्रशंसा से नहीं बल्कि सेवा से दर्शाया…

Continue Reading

थम नहीं रहा रेत का अवैध उत्खनन, खोद डाली नदियां, आब रेत माफिया की निगाह माँचना पर शाहपुर ब्लाक में हो रहा जमकर खनन, अधिकारी लगे कोरोना में

शाहपुर (आशीष राठौर) : नगर की माचना नदी की आमढ़ाना रेत खदान से रेत अवैध उत्खनन बदस्तूर जारी है वहीं जिम्मेदार अधिकारी मूकदर्शक बने धृतराष्ट्र का रोल निभा रहे हैं रेत माफियाओं द्वारा दिनदहाड़े माचना नदी के आमढ़ाना में 3-4 पौकलेन मशीनों उतार कर डंफरो में रेत भरकर खुलेआम निकाली जा रही है, प्रतिदिन नदी से लगभग 200 से अधिक डंफर लोड होकर निकल रहे है इससे सहज अंदाजा लगाया जा सकता है कि जब ब्लाक मुख्यालय कर खुलेआम रेत का अवैध उत्खनन अपने चरम पर है तो बाकि अन्य ग्रामीण अंचलों में किस तरह अवैध खनन का कार्य संचालित…

Continue Reading

स्टाफ क्वार्टर के सरकारी क्वाटर में रह रहे व्यक्ति द्वारा काटा जा रहा पीपल का पेड़

शाहपुर : एक ओर जहां कोरोना वायरस के कारण देश में ऑक्सीजन की कमी आम नागरिक को महसूस हो रही है, ऑक्सीजन के कारण ना जाने कितने लोगों ने अब तक अपनी जान गवा बैठे हैं । सरकार, एनजीओ लोगों से वृक्ष लगाने की अपील कर रहे है । यह जो ऑक्सीजन की कमी हमें महसूस हो रही है इस कारण अपने जीवन काल में कम से कम एक वृक्ष अवश्य लगाएं। चारों तरफ अभी ऑक्सीजन की कमी हो रही है इसके बावजूद खुद को प्रकृति का दुश्मन मान कर बरसो पुराने पीपल के पेड़ों को काटने में जरा…

Continue Reading